सड़क दुर्घटना,तेजाब और आग से पीड़ित लोगो का खर्चा उठाएगी: दिल्ली सरकार

दिल्ली सड़कों पर हर साल 8000 दुर्घटनाएं होती हैं. इसमें 15 से 20 हजार लोग प्रभावित होते हैं और सड़क दुर्घटनाओं में प्रति वर्ष तकरीबन 1600 लोगों की मौत होती हैं. कई बार लोग सड़क हादसे में पीड़ित को इसलिए भी नहीं उठाते की कहीं पुलिस केस न हो जाये

0
159

दिल्ली सरकार ने एक सराहनीय फैसला लिया है, दरअसल दिल्ली में अगर किसी भी शख्स के साथ सड़क दुर्घटना, आग और तेज़ाब हमला होता है, तो उन पीड़ितों का इलाज दिल्ली के निजी अस्पतालों में किया जायेगा| इलाज का सारा ख़र्च दिल्ली सरकार उठाएगी ये फैसला एक कल्पना जैसा लगता है| अगर किसी के साथ सड़क हादसा होता है तो उसका इलाज मुफ्त में होगा वो भी निजी अस्पताल में! दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दावा किया कि दिल्ली की सड़कों पर हर साल 8000 दुर्घटनाएं होती हैं| इसमें 15 से 20 हजार लोग प्रभावित होते हैं और सड़क दुर्घटनाओं में प्रति वर्ष तकरीबन 1600 लोगों की मौत होती हैं| इन्हीं मौतों को देखते हुए सरकार ने ये फैसला लिया है|

Image result for accident

Source Google

सरकार का कहना है कि लोग सड़क दुर्घटना पीड़ितों को पास के निजी अस्पताल के बजाय सरकारी अस्पताल ले जाते हैं, जिससे वे जल्दी उपचार से वंचित हो जाते हैं| सरकार के अनुसार दिल्ली सरकार ऐसी स्थिति में कितना खर्च वहन करेगी इसकी कोई सीमा तय नहीं की गई है| इस योजना को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में मंजूरी दी गई| अब बस इस फैसले पर उपराज्यपाल अनिल बैजल की मंजूरी का इंतजार दिल्ली सरकार कर रही हैवहीं इस फैसले पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल का कहना है “कि हर जीवन का मोल है| किसी भी गरीब की मौत पैसे के अभाव मै नही होना चाहिए| किसी भी दुर्घटना के पीडितको अगर समय से अस्पताल पहुचा दिया जायेतो इस से बहुत सी अमूल्य जिन्दगी बचायी जा सकती है |”

Image result for accident

Source google

 

हर जीवन हमारे लिए महत्वपूर्ण है| अगर दुर्घटना पीड़ितों को तत्काल सर्वश्रेष्ठ उपचार मिले तो कई जानें बचाई जा सकती हैं

इस के अलावा, MR. जैन ने कहा, “Good Samaritan Policy” योजना के अतर्गत दुर्घटना मे घायल व्यक्ति को अस्पताल पहुचाने वाले व्यक्ति को २००० रुपये भी दिए जायंगे|

Facebook Comments

To get more updates from Snazzypost, LIKE our Facebook page

680FansLike